Modern Indian History Most One liner Questions | Download Free pdf

आधुनिक भारत का इतिहास : Modern History Of India in hindi Pdf Download इस बुक में आधुनिक भारत का इतिहास का वर्णन किया गया है Ncert History Notes in hindi अगर आप किसी भी परीक्षा की तैयारी कर रहे है तो एक बार इसे डाउनलोड कर जरूर पढ़े यह बुक Upsc तथा Ssc , Railway व अन्य एग्जाम की तैयारी के लिए महत्वपूर्ण है इसमें आपको टॉपिक के अनुसार सभी अध्याय देखने को मिलेंगे आगामी परीक्षा के लिए यह बहुत उपयोगी है 

Modern History Of India in hindi के अधिकांश प्रश्न जो परीक्षाओ में पूछे गए वो भी आपको इसमें देखने को मिलेंगे इन प्रश्नो को अवश्य पढ़े व टॉपिक के अनुसार याद करें 

अगर आप किस भी एग्जाम जैसे UPSC , SSC, RAIWLAY , BANK , TEACHER , NDA , AIRFORCE , या अन्य किसी की तैयारी कर रहे  हमे जरूर सपोर्ट करे हम निरंतर आपके लिए कुछ ना कुछ नया अपलोड करते रहते है व अगर आप हमारे टेलीग्राम से जुड़ना चाहते है तो टेलीग्राम का नाम नीचे देख सकते है व दी हुई फोटो पर क्लिक करके सीधे जुड़ सकते है 

अगर आप आधुनिक भारत का इतिहास ( Modern Indian History ) के प्रश्न ढूंढ रहे है तो आप बिलकुल सही पेज/वेबसाइट पर आये है इसमें सबसे नीचे पीडीऍफ़ डाउनलोड करने का बटन दिया हुआ है जहां से आप पीडीऍफ़ को डाउनलोड कर सकते है 

सन 1857 का विद्रोह Revolt of 1857 in Hindi

  1. 29 मार्च 1857 को मंगल पांडे नामक एक सैनिक ने बैरकपुर में गाय की चर्बी से बने कारतूस को मुह से काटने से मना कर दिया था। फलस्वरूप उसे गिरफ्तार करके 8 अप्रैल 1857 को उसे फांसी पर चढ़ा दिया गया। इससे सन 1857 के विद्रोह को चिंगारी जी लग गई।
  2. इस महान विद्रोह की शुरुआत 10 मई 1857 को मेरठ से हुई थी। इस विद्रोह में झाँसी की रानी लक्ष्मी बाई का भी प्रमुख योगदान रहा। इसके दौरान झाँसी भी इस विद्रोह का मुख्य केंद्र बन गया।
  3. साथ ही दिल्ली में बहादुर शाह ज़फर, कानपुर में तात्या टोपे, लखनऊ में बेगेम हज़रत महल, बिहार से कुअंर सिंह और बरेली से खान बहादुर खा ने इस विद्रोह में अहम योगदान दिया।
  4. इस विद्रोह के समय भारत का गवर्नर जनरल- लॉर्ड कैनिन था।

नरमपंथी या उदारवादी चरण Freedom Struggle: Moderate Phase in Hindi

सन 1885-86

सन 1885 में अंग्रेजों ने भारत में दोबारा से अपना राज्य स्थापित कर लिया था। जिसके कारण भारत के जनता को बहुत कष्ट हुआ। तब भारत के जनता के मन में एक विचार आया कि क्यों ना एक राजनीतिक पार्टी की शुरुवात की जाये, जो की देश की ज़रूरतों को ब्रिटिश सरकार को बता सके। इस प्रकार भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना हुई। कांग्रेस की स्थापना के बाद वहां का गवर्नर जनरल लॉर्ड डफरिन था।

जब कांग्रेस की स्थापना हुई थी तब अधिवेशन में 72 प्रतिनिधियों ने भाग लिया था। कांग्रेस की स्थापना के संस्थापक ए. ओ. ह्यूम थे। इन्हें हरमीत ऑफ शिमला भी कहा जाता है। इसका पहला अधिवेशन जिसमें 72 प्रतिनिधियों ने भाग लिया था वह मुंबई में हुआ था। और यह व्योमेश चन्‍द्र बनर्जी  की अध्यक्षता में हुआ था।

आपको बता दे इसमें one liner questions दिए हुए है जो की आपके लिए सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए अति महत्वपूर्ण है 

Modern Indian History
Pages114
Size2.1 MB
FormatPDF
ebookModern Indian History

इस पीडीऍफ/Book को डाउनलोड करने के लिए नीचे Download Now बटन पर क्लिक करे अगर सेकेंड चल रही है तो कृपया समय पूरा दोने तक प्रतीक्षा करे डाउनलोड बटन दिख जायेगा 

Download Now

Leave a Comment